पतंजलि के सहायक प्रबंधक समेत तीन को 6 महीने की सजा और जुर्माना

India Uttar Pradesh Uttarakhand अपराध-अपराधी खाना-खजाना खेल-खिलाड़ी टेक-नेट तीज-त्यौहार तेरी-मेरी कहानी युवा-राजनीति लाइफस्टाइल शिक्षा-जॉब

Baba Ramdev In Trouble : बाबा रामदेव की मुश्किलें लगातार बढ़ती जा रही है सुप्रीम कोर्ट के सख्ती के बाद अब बाबा रामदेव की कंपनी पर एक और शिकंजा कस गया है और धीरे-धीरे अब बाबा रामदेव की मुश्किलें बढ़ती ही जा रही है। एक ऐसी ही ताजा खबर सामने निकलकर के आई है जिसमें पतंजलि आयुर्वेद लिमिटेड के सहायक प्रबंधक के साथ-साथ तीन लोगों को 6 महीने की सजा सुनाई गई है और इन तीनों लोगों पर जुर्माना भी लगाया गया है। उत्तराखंड के पिथौरागढ़ के मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट ने सोन पापड़ी के प्रशिक्षण में फेल हो जाने पर यह सजा सुनाई है।

कुछ इस तरह है पूरा मामला

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि उत्तराखंड के पिथौरागढ़ के मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट ने सोन पापड़ी के प्रशिक्षण में फेल हो जाने पर यह सजा सुनाई है। आपको बता दें कि 17 अक्टूबर वर्ष 2019 को खाद्य सुरक्षा इंस्पेक्टर ने पिथौरागढ़ के बैरीनाग के बाजार में लीलाधर पाठक नामक दुकानदार के दुकान का दौरा किया था जहां पतंजलि नवरत्न इलायची, सोन पापड़ी के बारे में उन्होंने संदेह व्यक्त किया था इसके बाद वहां से कुछ सैंपल लिए गए थे और कान्हा जी वितरक के साथ-साथ पतंजलि आयुर्वेद लिमिटेड को भी नोटिस जारी किया था। इसके बाद उत्तराखंड के ही रुद्रपुर उधम सिंह नगर में खाद्य एवं औषधि परीक्षण प्रयोगशाला में फोरेंसिक जांच की गई।

जांच के बाद की गई कार्यवाही

दिसंबर 2020 में खाद्य सुरक्षा विभाग को प्रयोगशाला से एक रिपोर्ट मिली जिसमें मिठाई की घटिया क्वालिटी बताई गई। इसके बाद कारोबारी लीलाधर पाठक और डिस्ट्रीब्यूटर अजय जोशी और पतंजलि के असिस्टेंट मैनेजर अभिषेक कुमार के खिलाफ मामले को दर्ज कर लिया गया। इसके बाद यह मामला अदालत पहुंचा और सुनवाई के बाद खाद्य सुरक्षा और मानक अधिनियम 2006 की धारा 59 के तहत तीनों को 6-6 महीने की सजा सुनाई गई और क्रमशः 5000, 10000 और 25000 रुपए का जुर्माना भी लगाया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *