तीन चरणों के चुनाव बाकी लेकिन कांग्रेस अध्यक्ष खरगे का दावा- 4 जून को विदाई हो रही पीएम नरेंद्र मोदी की

India Uttar Pradesh टेक-नेट तेरी-मेरी कहानी नारी सशक्तिकरण युवा-राजनीति वीडियो

लव इंडिया, लखनऊ। कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे ने बुधवार (15 मई) को लखनऊ में कहा कि चार चरण में हुए लोकसभा चुनाव के बाद इंडिया गठबंधन मजबूत स्थिति में है. जनता ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की विदाई तय कर दी है. उन्होंने कहा कि 4 जून को इंडिया गठबंधन नई सरकार बना रही है. कांग्रेस अध्यक्ष ने समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव के साथ यूपी की राजधानी में संयुक्त प्रेस वार्ता करते हुए हुए ये टिप्पणियां कीं. 

इंडिया गठबंधन की सरकार बनाने का दावा करते हुए मल्लिकार्जुन खरगे ने कहा, “चार चरण के चुनाव पूरे हो चुके हैं. इंडिया गठबंधन मजबूत स्थिति में है. जनता ने पीएम मोदी की विदाई तय कर दी है. पूरे देश का माहौल देखकर हम कह सकते हैं कि 4 जून को इंडिया गठबंधन नई सरकार बना रही है.” 

उन्होंने कहा, “2024 का चुनाव सबसे महत्वपूर्ण चुनाव है. ये लोकतंत्र और संविधान बचाने का चुनाव है. ये विचारधारा का चुनाव है. एक तरफ गरीबों के पक्ष में लड़ने वाली पार्टियां एक होकर लड़ रही हैं. दूसरी तरफ जो अमीरों के साथ रहकर अंधश्रद्धा और जो अपने को ठीक लगता है वैसे लोग धर्म के आधार पर लड़ रहे हैं.”

माधवी लता पर खरगे ने साधा निशाना

बीजेपी पर बड़ा आरोप लगाते हुए कांग्रेस अध्यक्ष खरगे ने कहा कि जहां बीजेपी के लोग मजबूत हैं, वहां विपक्ष के लोगों को नामांकन दाखिल करने से भी रोका जा रहा है. इलेक्शन एजेंट्स को डराया जा रहा है. खरगे ने हैदराबाद में बीजेपी उम्मीदवार माधवी लता के जरिए आईडी चेक करने के मुद्दे को भी उठाया. उन्होंने माधवी का नाम लिए बगैर कहा कि हैदराबाद में एक महिला कैंडिडेट बुर्का उठा-उठाकर देख रही थीं. ऐसे हालात में निष्पक्ष और स्वतंत्र चुनाव नहीं हो सकता है. 

महंगाई और बेरोजगारी के खिलाफ लड़ रहे चुनाव

कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा, “हमारी लड़ाई गरीबों की तरफ से है. जिन्हें एक वक्त का खाना नहीं मिलता, जिन्हें नौकरी नहीं मिलती. डिग्री-डिप्लोमा होने के बाद भी नौकरी नहीं मिल रही है. सरकार में इतनी नौकरियां खाली हैं, उन पदों को भी भरने के लिए केंद्र सरकार तैयार नहीं है.” 

खरगे ने आगे कहा, “इंडिया गठबंधन बेरोजगारी और महंगाई के खिलाफ लड़ रहा है. लोकतंत्र को बचाने के लिए हम सबको काम करना चाहिए, नहीं तो हम गुलामी में चले जाएंगे. वोट का अधिकार सबको है. अगर लोकतंत्र ही नहीं रहेगा और अगर तानाशाही होगी तो आप कैसे वोट डालेंगे?”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *